सफलता की कहानी एक कामयाब डिसट्रिब्युटर की ज़ुबानी…

3aug_blog_hindi

अपने स्टोर से अच्छा ख़ासा मुनाफ़ा कमाने वाले पुणे के योगेश चोर्दिया तेज़ रफ़्तार से बढ़ती नेट आधारित व्यापारिक गतिविधियाँ जैसे ऑनलाइन रीचार्ज, ऑनलाइन शॉपिंग वग़ैरा को देखते हुए एक डिसट्रिब्युटर बन गए. इनके व्यापार मे कई टेलिकॉम और  रीटेल कंपनी शामिल थी. सफलतापूर्वक पाँच साल डिस्ट्रिब्युटरशिप चलाने के बाद योगेश Pay1 के साथ जुड़े.

सफल कारोबारी योगेश का मानना है कि सफल व्यापार के लिए ग्राहकों के चेहरे पर मुस्कान लाना ज़रूरी है जोकि बेहतरीन सेवा और तेज़ गतिशील लेनदेन के ज़रिये मुमकिन है. कई टेलिकॉम और रीटेल कम्पनी के साथ कारोबार कर रहे योगेश का मानना है कि बगैर रुकावट तेज़ सेवा देने के मामले मे Pay1 सबसे बेहतर है.

योगेश जानते है कि दुकानदारों का सबसे बड़ा सरदर्द डिजिटल लेनदेन का फेल होना और देरी से होना है  जिससे ग्राहक टूटते हैं  मतलब कारोबार टूटता है.

“तेज़ और बग़ैर गलती के लेनदेन के मामले मे  Pay1 का कोई जोड़ नही है”, ऐसा अनुभवी कारोबारी योगेश का मानना है . अपनी  बेहतरीन फटाफट सेवा और सरल लेनदेन के लिए  Pay1 एक बेजोड़ कम्पनी बनती है.

Pay1 ने हमेशा से माना है कि डिसट्रिब्युटर और दुकानदार समय के साथ अपडेट रहेंगे तभी ग्राहकों को बेहतर सेवा दे पायेंगे . Pay1  दुकानदार और डिसट्रिब्युटर्स के साथ बेहतर तालमेल के लिए अपनी संवाद सेवा के साथ हमेशा तैयार रहता है

करीब 300 दुकानदारों के साथ कारोबार करने वाले योगेश भी Pay1 के बेहतर संवाद , समस्याओं के तुरंत निपटान और मजबूत तकनीक के मुरीद है.  वह कहते हैं “Pay1 तकनीकी प्रशिक्षण, बिक्री और सेवाओं के प्रशिक्षण, ऐप उपयोग प्रशिक्षण, बिक्री और व्यापार प्रबंधन कौशल प्रशिक्षण  के ज़रिये दुकानदारों की समझ मजबूत करता है, सही समझ मतलब सही कारोबार”.

योगेश यह भी साफ बताते हैं कि Pay1 किसी भी तरह का अतिरिक्त और छुपा चार्ज नही लेता, कारोबार पूरी तरह से पारदर्शी और आसान रहता है. अपने कामयाब कारोबार का श्रेय योगेश अपने साथी दुकानदारों के साथ-साथ Pay1 को देते हैं.